जब अमिताभ बच्चन ने बॉलीवुड को कह दिया था अलविदा, स्टार्स समेत फैन्स ने भी की गुजारिश, फिर ऐसे की वापसी


मुंबई. अमिताभ बच्चन बॉलीवुड के सबसे बड़े स्टार माने जाते हैं. अमिताभ बच्चन की फिल्मों का दौर शुरू से ऐसा शुरू हुआ कि आज तक थमने का नाम नहीं ले रहा है. आज अमिताभ के कद का कोई भी अभिनेता बॉलीवुड इंडस्ट्री में नहीं है. फिल्म कोई भी हो या किरदार कोई भी हो अमिताभ का जादू हमेशा से ही चलता आया है. लेकिन एक दौर ऐसा भी आया था जब अमिताभ ने एक्टिंग की दुनिया से अस्थाई संन्यास ले लिया था.

90 के दशक का था दौर
यह दौर था 1900 के दशक का. साल 1990 से शुरु हुए इस दौर में अमिताभ की फिल्म आई अग्निपथ. अमिताभ बच्चन के पिता हरिवंश राय बच्चन की कविता अग्निपथ से लिए गए टाइटल की इस फिल्म ने धूम मचा दी. इस एक्शन ड्रामा फिल्म को एक नेशनल अवॉर्ड और दो फिल्मफेयर अवॉर्ड से नवाजा गया. इसके बाद आज का अर्जुन आई. यह फिल्म काफी विवादों में घिरी रही. लोगों ने यह भी कहा कि अमिताभ अब एक्टिंग में कम रुचि लेते हैं. हालांकि यह फिल्म बाद में सफल भी रही. इसके बाद अजूबा और खुदा गवाह फिल्में आईं. साल 1992 में आई फिल्म खुदा गवाह के बाद अमिताभ का एक्टिंग से मन भर गया और उन्होंने अस्थाई तौर पर संन्यास की घोषणा कर दी.

5 सालों तक बनाए रखी फिल्मों से दूरी
इसके बाद करीब 5 सालों तक अमिताभ फिल्मी पर्दे से दूर रहे. अस्थाई ब्रेक के बाद बॉलीवुड के सितारों ने अमिताभ से वापस लौट आने का निवेदन किया. नव्बे के दशक के उभरते सितारे आमिर खान, गोबिंदा समेत कई स्टार्स ने अमिताभ से लौट आने का निवेदन भी किया. आमिर खान ने अपने इंटरव्यू के दौरान कहा था कि मैं उनका बहुत बड़ा फैन हूं और मैं अगले 50 सालों तक उनकी फिल्मों को देखना चाहता हूं. गोबिंदा ने भी अमिताभ से एक्टिंग की दुनिया में वापस लौट आने की मांग की थी. लेखक जावेद अख्तर ने भी अमिताभ को याद कर लौट आने की बात कही थी.

इंटरव्यू में बताया था किस्सा
अमिताभ बच्चन ने भी अपनी वापसी को लेकर इंटरव्यू के दौरान कहा था कि बहुत सालों तक काम कर लिया है. मैं कब पर्दे पर वापसी करूंगा इसके बारे में मैं खुद नहीं बता सकता. कुछ समय मिला है मैं इत्मिनान से कुछ समय बिताना चाहता हूं. मैं यह फिगरआउट करने की कोशिश कर रहा हूं कि मैं क्या करना चाहता हूं और किस तरह करना चाहता हूं. हालांकि अमिताभ ने कहा था कि फिल्म इंडस्ट्री मेरे शरीर का एक हिस्सा है और कोई भी अपने शरीर के हिस्से को अलग नहीं करना चाहता.

फिल्म मृत्युदंड से की थी वापसी
हालांकि अमिताभ ने साल 1997 में अपने 5 साल के अस्थाई संन्यास को समाप्त कर दिया और फिल्म रिलीज हुई मृत्युदाता. लेकिन बदकिस्तमति से यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह पिट गई. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इसी फिल्म के दौरान अभिषेक बच्चन और एश्वर्या राय की मुलाकात हुई थी. इस फिल्म में अनक्रेडिटेड असिस्टेंट काम काम कर रहे थे. अभिषेक इस फिल्म की लोकेशन ढूंढने के लिए निकले थे. इसी दौरान एश्वर्या भी पास में ही शूटिंग कर रही थी. इसी दौरान दोनों की मुलाकात हुई थी और दोस्ती हो गई. बाद में दोस्ती प्यार में बदल गई और आज दोनों खुशहाल पति-पत्नी का जीवन जी रहे हैं.

Tags: Amitabh bachchan, Bollywood news



Source link

Related posts

Leave a Comment