आयुष्मान खुराना को अपनी फिल्मों के फ्लॉप या हिट होने से नहीं पड़ता है कोई फर्क, बोले-भारत एक होमोफोबिक देश है


मुबंई. आयुष्‍मान खुराना (Ayushmann Khurrana) को हाल ही में रिलीज हुई ‘डॉक्‍टर जी’ (Doctor G) फिल्म में देखा गया था. अब आने वाले दिनों वह ‘एन एक्शन हीरो (An Action Hero)’ में एक्शन करते हुए देखे जाएंगे. फिल्म को लेकर दर्शकों के बीच जबरदस्त बज बना हुआ है. आयुष्मान इन दिनों फिल्म के प्रमोशन में बिजी हैं. फिल्म के प्रमोशन के बीच एक्टर ने अपनी फिल्म ‘चंडीगढ़ करे आशिकी’ ( Chandigarh Kare Aashiqui) के खराब बॉक्स ऑफिस कलेक्शन के बारे में बातें की. बता दें कि इस फिल्म में वाणी कपूर (Vaani Kapoor) बतौर लीड एक्ट्रेस थीं. फिल्म बॉक्स पर बुरी तरह फ्लॉफ साबित हुई थी.

बता दें कि इस साल आयुष्मान को फिल्म ‘अनेक’ और ‘डॉक्टर’ जी में देखा गया. ये दोनों ही फिल्में बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकीं. आयुष्मान खुराना ने ओटीटी प्ले से बात करते हुए अपनी फिल्में के बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉफ होने पर चुप्पी तोड़ी.

बताया-भारत एक होमोफोबिक देश है


रिपोर्ट के अनुसार, एक सवाल का जवाब देते हुए एक्टर ने कहा, ‘हमारा भारत एक होमोफोबिक देश है. मैने ऐसी फिल्मों से अपने करियर की शुरुआत की जिनपर ज्यादातर एक्टर काम करना पसंद नहीं करते हैं. लेकिन दुर्भाग्य है कि ये फिल्में बॉक्स ऑफिस पर बहुत अच्छा बिजनेस नहीं कर सकीं. इसकी असली वजह ये है कि हमारा देश अभी तक होमोफोबिक सोच में डूबा हुआ है.’

हिट या फ्लॉप की चिंता नहीं


आयुष्मान खुराना ये समझाते हुए आगे कहा कि अगर वह अपनी जगह काफी जिद्दी हैं. रिपोर्ट के अनुसार, अगर मैने रिस्क लेना छोड़ दिया तो दूसरों की तरह रूढ़ हो जाउंगा क्योंकि मुझे हमेशा से एकतरफा रहना ही पसंद है. मैं हिट या फ्लॉप की चिंता किए बिना उन प्रोजेक्ट्स पर काम करना चाहता हूं जिन्हें फ्यूचर में ले जाना सही है और मैं हमेशा उन्हीं सीमाओं को आगे धकेलता रहता हूं. हालांकि मेरी फिल्में काफी कम बजट की होती हैं जिनके फ्लॉप होने पर बहुत ज्यादा नुकसान नहीं होता है. इसलिए मैं रिस्क लेने से नहीं भागता.’

Tags: Ayushmann Khurrana, Bollywood news, Entertainment news.



Source link

Related posts

Leave a Comment