Birth Anniversary: काजोल की नानी शोभना समर्थ सीता के रोल के लिए थीं मशहूर, कैलेंडर पर छपती थी तस्वीर


नई दिल्ली: हिंदी फिल्म इंडस्ट्री की वेट्रन एक्ट्रेस शोभना समर्थ (Shobhna Samarth) का जन्म 17 नवंबर 1916 में हुआ था. ‘भरत मिलाप’, ‘राम राज्य’ जैसी फिल्मों में सीता के रोल के लिए वह इतनी मशहूर थीं कि कैलेंडर पर माता सीता के रुप में उनकी फोटो छपती थी. पर्दे पर जब वह आती तो लोग श्रद्धा में फूल बरसाने लगते थे. फिल्म इंडस्ट्री में एक्टर्स अपने बेटों को लॉन्च करने के लिए जाने जाते हैं लेकिन उस दौर में शोभना में ही दमखम था कि अपनी बेटियों नूतन (Nutan) और तनुजा (Tanuja) को लॉन्च करने के लिए खुद डायरेक्टर और प्रोड्यूसर बन गईं थीं.

1935 में मराठी फिल्म ‘निगाहे नफरत’ से अपने करियर की शुरुआत करने वाली शोभना समर्थ बला की खूबसूरत थीं. बॉलीवुड की दिग्गज एक्ट्रेस की दोनों बेटियों नूतन और तनूजा ने भी शानदार फिल्मी करियर बनाया. शोभना समर्थ बेहद टैलेंटेड एक्ट्रेस थीं, जिस दौर में मर्द फिल्म बनाने से घबराते थे उस दौर में शोभना ने अपनी बेटियों को लॉन्च करने के लिए खुद फिल्म बनाई. 1950 में ‘हमारी बेटी’ से नूतन को तो 1960 में ‘छबीली’ से बेटी तनुजा को लॉन्च किया. दोनों बेटियां भी मां की तरह ही बड़ी स्टार बनीं.

पैसों की वजह से आ गई थी मां-बेटी के रिश्ते में दरार


तनुजा की बेटी काजोल तीसरी पीढ़ी है जो एक्टिंग की विरासत को आगे ले जा रही हैं.शोभना ने अपनी बेटियों के करियर को संवरा लेकिन एक ऐसी घटना हो गई थी जिसकी वजह से बेटी नूतन अपनी मां को कोर्ट तक ले गई.  दरअसल, शोभना समर्थ ने अपने प्रोडक्शन हाउस शोभना पिक्चर्स से बॉलीवुड में नूतन को लॉच किया था. इस प्रोडक्शन हाउस में नूतन भी हिस्सेदार थीं. नूतन की फिल्मी कमाई का सारा पैसा कंपनी में ही जाता था. प्रोडक्शन हाउस के सारे फाइनेंशियल मामले शोभना खुद ही हैंडल करती थीं.

शोभना के साथ नूतन का विवाद खूब चर्चा में रहा


हर मां-बेटी के रिश्ते की तरह नूतन भी अपनी मां पर आंख मूद कर भरोसा करती थी. भरोसे ये दीवार तब भरभरा कर गिर पड़ी जब इनकम टैक्स ऑफिस से टैक्स चुकाने के लिए घर पर नोटिस आया. नोटिस आने पर शोभना ने नूतन से पैसे भरने को कहा. इस पर नूतन ने कहा कि कंपनी में वह सिर्फ 30 फीसदी प्रॉफिट की हिस्सेदार हैं तो अपने हिस्से का टैक्स भरने के लिए तैयार हैं बाकी आप भरिए. शोभना जिद पर अड़ी रहीं और टैक्स के लिए कोई प्रॉपर्टी भी बेचने के हक में नहीं थी. ऐसे में नूतन को लगा कि मां को बेटी से अधिक प्रॉपर्टी की चिंता है तो घर छोड़ दिया. मां बेटी का रिश्ता ऐसा बिगड़ा कि मामला कोर्ट कचहरी तक जा पहुंचा. कहते हैं कि बाद में दोनों का रिश्ता सुधर गया था. लेकिन मां-बेटी के झगड़े के किस्से उन दिनों काफी सुर्खियों में रहे.

9 फरवरी 2000 में हुआ शोभना समर्थ का निधन


शोभना समर्थ को 1997 में एक्ट्रेस को फिल्मफेयर के स्पेशल अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था. शोभना ने डायरेक्टर कुमारसेन समर्थ से शादी की थी. पूरा जीवन अपनी शर्तों पर जीने वाली शोभना ने 9 फरवरी सन 2000 में दुनिया को अलविदा कह दिया था.

Tags: Actress, Birth anniversary, Entertainment Throwback, Kajol



Source link

Related posts

Leave a Comment